Post Doctoral Journey

Posted on Leave a commentPosted in Uncategorized

POST-DOCTORAL JOURNEY OF 25 YEARSFeeling Happy and recalling the(25 years’ ago) August 18, 1994 (Thursday); Ph.D. awarded to me.❇शुक्लवर्ण वाली, संपूर्ण चराचर जगत् में व्याप्त, आदिशक्ति, परब्रह्म के विषय में किए गए विचार एवं चिंतन के सार रूप परम उत्कर्ष को धारण करने वाली, सभी भयों से भयदान देने वाली, अज्ञान के अँधेरे को मिटाने […]